कर्नाटक सामान्य ज्ञान Karnataka Samanya Gyan

कर्नाटक सामान्य ज्ञान Karnataka Samanya Gyan

नमस्कार दोस्तों, Shital RCS GYAN के इस ब्लॉग में आपका स्वागत है। आज के इस आर्टिकल में कर्नाटक सामान्य ज्ञान के बारे में महत्वपूर्ण तथ्य बताने जा रहा हूँ l यह कर्नाटक के सभी कम्पटीशन एग्जाम के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण है। UPSC, PCS, SSC, RAILWAY और सभी अन्य कम्पटीशन एग्जाम के लिए इम्पोर्टेन्ट माईने रखता है। दोस्तों आप हमारे वेबसाइट से जुड़े रहें ताकि मैं आप के लिए और भी स्टडी मटेरियल, सामान्य ज्ञान, प्रीपरेशन टिप्स का जानकारी लाता रहूं।

इसका पीडीऍफ़ फाइल डाउनलोड करने के लिए नीचे जाएँ…



कर्नाटक सामान्य ज्ञान

स्थापना दिवस – 1 नवम्बर 1956
राजधानी – बेंगलुरु (सिलिकॉन वैली)
सबसे बड़ा शहर – बेंगलुरु
उच्च न्यायालय – बंगलुरु
राजभाषा – कन्नड़
साक्षरता – 66.6 (2001)
जनसंख्या – 6,10,95,297
जनसंख्या घनत्व – 319 व्यक्ति/वर्ग किमी
क्षेत्रफल – 1,91,791 किमी
जिलों की संख्या – 30
लिंगानुपात – 968/1000
शिशु लिंगानुपात – 946/1000
कर्नाटक राज्य का प्रतीक – गांदोबेरुण्डा
राजीकीया – पशु – एशियाई हाथी
राजकीय पक्षी – भारतीय – रोलर
राजकीय पुष्प (फूल) – कमल
राजकीय वृक्ष – चन्दन
विधान परिषद में सीटों की संख्या – 75
विधान सभा में सीटों की संख्या – 225
राज्य सभा में सीटों की संख्या – 12
लोक सभा में सीटों की संख्या – 28
डाक सूचक संख्या – 56 से 59
वाहन अक्षर – KA

कर्नाटक सामान्य ज्ञान Karnataka Samanya Gyan

1. कर्नाटक की सीमाएं पश्चिम में अरब सागर, उत्तर पश्चिम में गोआ, उत्तर में महाराष्ट्र, पूर्व में आंध्र प्रदेश, दक्षिण-पूर्व में तमिल नाडु एवं दक्षिण में केरल से लगती हैं ।
2. कर्नाटक शब्द का उद्गम कन्नड़ शब्द करु, अर्थात काली या ऊंची और नाडु अर्थात भूमि या प्रदेश या क्षेत्र से आया है।
3. कर्नाटक की प्रमुख नदियों में कावेरी, वेदवती नदी, तुंगभद्रा नदी, घाट प्रभा, कृष्णा नदी, मलयप्रभा नदी और शरावती नदी है।
4. कर्नाटक का सबसे ऊंचा स्थल चिकमंगलूर जिले का “मुल्लयनगिरि” पर्वत है। यहां की समुद्र सतह से ऊंचाई 1,929 मीटर (6,329 फीट) है।
5. कर्नाटक की मिट्टी 6 प्रकार की है, लाल, लैटेरिटिक, काली, ऍल्युवियो-कोल्युविलय एवं तटीय रेतीली मिट्टी।
6. कर्नाटक का लगभग 38,724 कि॰मी वनों से घिरा हुआ है। कर्नाटक के कुल क्षेत्र का 20% में वन फैला हुआ है।
7. यह राज्य भारत में कहवा (कॉफ़ी) के उत्पादन में अग्रणी है इसीलिए इसे भारत का कहवा राज्य भी कहते हैं |
8. यहाँ की प्रमुख जनजातियाँ सोलिग, येरवा, टोडा, चेंचू, बरदा और सिद्धि समुदाय हैं।
9. राज्य की आधिकारिक भाषा है कन्नड़, जो स्थानीय निवासियों में से 65% लोगों द्वारा बोली जाती है। कन्नड़ भाषा ने कर्नाटक राज्य की स्थापना में एक महत्त्वपूर्ण भूमिका निभायी है।
10. कर्नाटक का एक छोटा सा जिला कोडगु भारतीय हाकी टीम के लिये सर्वाधिक योगदान देता है। यहां से अनेक खिलाड़ियों ने अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर हॉकी में भारत का प्रतिनिधित्व किया है।
11. राज्य के मैसूर शहर में स्थित “महाराजा पैलेस” इतना आलीशान एवं खूबसूरत बना है, कि उसे सबसे विश्व के दस कुछ सुंदर महलों में गिना जाता है।
12. कर्नाटक देश के प्रमुख दुग्ध उत्पादक राज्यों में से एक है। कर्नाटक मिल्क फेडरेशन के पास 21 प्रसंस्करण संयंत्र हैं जिनकी क्षमता लगभग 26.45 लाख लीटर प्रतिदिन है।
13. कर्नाटक में रेलवे के नेटवर्क की कुल लंबाई लगभग 3089 किलोमीटर है। कर्नाटक में 11 बंदरगाह हैं, जिसमे नवीन मंगलोर बंदरगाह शामिल है जो एक मुख्य बंदरगाह है।
14. कर्नाटक , जिसकी आबादी का लगभग 66.6 प्रतिशत हिस्सा साक्षर है, भारत के शैक्षिक रूप से विकसित राज्यों में से एक है।
15. 2007-08 में ग़रीबी रेखा से नीचे रह रहे परिवारों की 1.75 लाख लड़कियों और 2.33 लड़कों को साइकिलें बांटी गई। वर्ष 2008-09 में यह योजना आठवीं कक्षा में पढ़ने वाले सभी वर्ग के बच्चों के लिए कर दी गई है। आशा है कि इससे 7 लाख से अधिक बच्चों को लाभ मिलेगा।
16. कर्नाटक की प्रमुख फसल धान, ज्वार, बाजरा, चावल, मक्का, रागी है।




कर्नाटक की सांस्कृतिक जीवन
* कर्नाटक में विभिन्न राजवंशों के योगदान के कारण एक समृद्ध सांस्कृतिक विरासत मौजूद है, जिसमें विभिन्न धर्मों और दर्शनों को बढ़ावा दिया गया है।
* इन्होंने साहित्य, वास्तुशिल्प, लोकगीतों, संगीत, चित्रकला और लघु कलाओं पर अपना प्रभाव छोड़ा है।
* मैसूर से 90 किमी दूर श्रवणबेलगोला नगर में मौर्य वास्तुशिल्प और मूर्तिशिल्प के उल्लेखनीय उदाहरण मिलते हैं, जैसे जैन मुनि बाहुबली (गोमतेश्वर) की लगभग * 1,000 वर्ष पुरानी मानी जाने वाली विशालकाय प्रस्तर प्रतिमा।
* विशाल आकार और एक ही चट्टान से तराशी गई जैन प्रतिमाएँ कन्नड़ संस्कृति की विशेषता है।
* सातवीं शताब्दी के मन्दिरों के वास्तुशिल्प में चालुक्य और पल्लव वंशों का प्रभाव अब भी स्पष्ट है।
* पश्चिमी शक्तियों के आगमन ने शहरी क्षेत्रों के आभिजात्य वर्ग को पश्चिमी वास्तुशिल्प और जीवन शैली से परिचित कराया।
* इसी प्रकार मुस्लिम शासकों ने न सिर्फ़ इस्लाम की नींव रखी, बल्कि वास्तुशिल्प को भी प्रभावित किया।
* कर्नाटक का पश्चिमी तटीय क्षेत्र काफ़ी हद तक ईसाई धर्म से प्रभावित है।





कर्नाटक सामान्य ज्ञान Karnataka Samanya Gyan:- DOWNLOAD PDF FILE

इसे अपने दोस्तों के साथ फेसबुक और व्हाट्सएप में शेयर करें। क्या पता आपके एक शेयर से किसी स्टूडेंट्स का हेल्प हो जाए।

आप इस राज्य से जुड़ी और भी GK जानते तो कमेंट में जरूर बताएं। आपके कमेंट से स्टूडेंट्स को सिखाने और मुझे मोटिवेशन मिलता है।

1. सिक्किम सामान्य ज्ञान साथ में पीडीऍफ़
2. राजस्थान सामान्य ज्ञान साथ में पीडीऍफ़
3. ओडिशा सामान्य ज्ञान साथ में पीडीऍफ़
4. तमिलनाडु सामान्य ज्ञान साथ में पीडीऍफ़
5. असम सामान्य ज्ञान साथ में पीडीऍफ़
6. नागालैंड सामान्य ज्ञान साथ में पीडीऍफ़
7. मिजोरम सामान्य ज्ञान साथ में पीडीऍफ़
8. मेघालय सामान्य ज्ञान साथ में पीडीऍफ़
9. पश्चिम बंगाल सामान्य ज्ञान साथ में पीडीऍफ़
10. मणिपुर सामान्य ज्ञान साथ में पीडीऍफ़
11. पंजाब सामान्य ज्ञान साथ में पीडीऍफ़
12. महाराष्ट्र सामान्य ज्ञान साथ में पीडीऍफ़
13. मध्यप्रदेश सामान्य ज्ञान साथ में पीडीऍफ़
14. केरल सामान्य ज्ञान साथ में पीडीऍफ़
15. कर्नाटक सामान्य ज्ञान साथ में पीडीऍफ़
16. जम्मू और कश्मीर सामान्य ज्ञान साथ में पीडीऍफ़
17. झारखण्ड सामान्य ज्ञान साथ में पीडीऍफ़
18. हिमाचल प्रदेश सामान्य ज्ञान साथ में पीडीऍफ़
19. हरियाणा सामान्य ज्ञान साथ में पीडीऍफ़
20. गुजरात सामान्य ज्ञान साथ में पीडीऍफ़
21. त्रिपुरा सामान्य ज्ञान साथ में पीडीऍफ़
22. उत्तराखण्ड सामान्य ज्ञान साथ में पीडीऍफ़
23. तेलंगाना सामान्य ज्ञान साथ में पीडीऍफ़
24. गोवा सामान्य ज्ञान साथ में पीडीऍफ़
25. छत्तीसगढ़ सामान्य ज्ञान साथ में पीडीऍफ़
26. बिहार सामान्य ज्ञान साथ में पीडीऍफ़
27. उत्तरप्रदेश सामान्य ज्ञान साथ में पीडीऍफ़
28. आंध्रप्रदेश सामान्य ज्ञान साथ में पीडीऍफ़
29. अरुणाचल प्रदेश सामान्य ज्ञान साथ में पीडीऍफ़

इसे शेयर जरूर करें

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *