गांधी जी का जीवन परिचय की महत्वपूर्ण घटना

Mahatma Gandhi About

गांधी जी का जीवन परिचय की महत्वपूर्ण घटना

1. दो अक्टूबर 1869 को गुजरात के पोरबंदर में मोहनदास करमचंद गांधी (महात्मा गाँधी) का जन्म हुआ थाl

2. गाँधी जी के पिता करमचन्द गान्धी सनातन धर्म की पंसारी जाति से सम्बन्ध रखते थेl

3. गाँधी जी के माता का नाम पुतलीबाई परनामी वैश्य समुदाय की थीं। पुतलीबाई करमचन्द की चौथी पत्नी थी। उनकी पहली तीन पत्नियाँ प्रसव के समय मर गयीं थीं।

4. गाँधी जी का विवाह मई 1883 में साढे 13 साल की आयु पूर्ण करते ही 14 साल की “कस्तूरबा माखनजी” (पत्नी) से कर दिया गया। पत्नी का पहला नाम छोटा करके “कस्तूरबा” कर दिया गया और उसे लोग प्यार से “बा” कहते थेl

5. 1885 में जब गान्धी जी 15 वर्ष के थे तब इनकी पहली सन्तान ने जन्म लिया। लेकिन वह केवल कुछ दिन ही जीवित रही। और इसी साल उनके पिता करमचन्द गांधी भी चल बसे। मोहनदास और कस्तूरबा के चार सन्तान हुईं जो सभी पुत्र थे। “हरीलाल गान्धी” 1888 में, “मणिलाल गान्धी” 1892 में, “रामदास गान्धी” 1897 में और “देवदास गांधी” 1900 में जन्मे।

6. गाँधीजी भारतीय शिक्षा को ‘द ब्यूटीफुल ट्री’ (The beautiful tree) कहा करते थे। इसके पीछे कारण यह था कि गाँधी ने भारत की शिक्षा के बारे में जो कुछ पढ़ा था, उससे पाया था कि भारत में शिक्षा सरकारों के बजाय समाज के अधीन थीl

7. 19वें जन्मदिन से लगभग एक महीने पहले ही 4 सितम्बर 1888 को गान्धी जी यूनिवर्सिटी कॉलेज लन्दन में कानून की पढाई करने और बैरिस्टर बनने के लिये इंग्लैंड चले गये।

8. 1888-1891, यह वह समय था जब गांधीजी ने लंदन में कानून की पढ़ाई की ताकि वह बैरिस्टर बन सकेंl हालांकि परिवार वाले उन्हें इतनी दूर भेजने को तैयार नहीं थेl

9. 1893-1915, गांधी को गांधी बनाने में उनके दक्षिण अफ्रीका प्रवास का अहम योगदान था जहां उन्होंने एक वकील के तौर पर जिंदगी शुरू कीl यहीं 1913 में उन्होंने पहला अहिंसक आंदोलन कियाl

10. दिसम्बर 1921 में गांधी जो भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस.का कार्यकारी अधिकारी नियुक्त किया गया। उनके नेतृत्व में कांग्रेस को स्वराज.के नाम वाले एक नए उद्देश्यं के साथ संगठित किया गया। पार्दी में सदस्यता सांकेतिक शुल्क का भुगताने पर सभी के लिए खुली थी।

11. असहयोग आन्दोलन को दूर-दूर से अपील और सफलता मिली जिससे समाज के सभी वर्गों की जनता में जोश और भागीदारी बढ गई। फिर जैसे ही यह आंदोलन अपने शीर्ष पर पहुंचा वैसे फरवरी 1922 में इसका अंत चौरी-चोरा, उत्तरप्रदेश में भयानक द्वेष के रूप में अंत हुआ।

12. गांधी जी के एकता वाले व्यक्तित्व के बिना इंडियन नेशनल कांग्रेस उसके जेल में दो साल रहने के दौरान ही दो दलों में बंटने लगी जिसके एक दल का नेतृत्व सदन में पार्टी की भागीदारी के पक्ष वाले चित्त रंजन दास तथा मोतीलाल नेहरू ने किया तो दूसरे दल का नेतृत्व इसके विपरीत चलने वाले चक्रवर्ती राजगोपालाचार्य और सरदार वल्लभ भाई पटेल ने किया।

13. 1922 भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस में नैतिकता का स्तंभ बनने के बाद गांधी ने ब्रिटिश राज के खिलाफ सविनय अवज्ञा आंदोलन छेड़ाl उन्हें गिरफ्तार किया गया और वे दो साल जेल में रहेl

14. उन्होंने ब्रिटिश सरकार के नमक कानून के खिलाफ 1930 में अहिंसक मार्च निकालाl अहमदाबाद में अपने आश्रम से पैदल 350 किलोमीटर का सफर तय कर वह दांड़ी तक गएl उन्हें दस हजार लोगों के साथ गिरफ्तार किया गयाl

15. जेल में उन्होंने “अछूतों” के लिए अलग से चुनाव क्षेत्र रखने की योजना के खिलाफ आमरण अनशन किया 1932 मेंl वह अनशन को कई बार हथियार की तरह इस्तेमाल करते थेl

16. 1942 उन्होंने ‘अंग्रजो भारत छोड़ो’ आंदोलन का बिगुल बजायाl उन्हें गिरफ्तार किया गया और 1944 तक जेल में रखा गयाl

17. भारत को अंग्रेजी राज से 1947 में आजादी मिलीl गांधी नहीं चाहते थे कि भारत और पाकिस्तान का बंटवारा होl लेकिन सांप्रदायिक दंगों के बीच उन्होंने दिल पर पत्थर रख कर आखिर इसे स्वीकार कियाl

18. नई दिल्ली में एक प्रार्थना सभा के दौरान नाथूराम गोडसे ने 1948 में महात्मा गांधी की गोली मार कर हत्या कर दीl उनकी यात्रा में बीस लाख लोगों ने हिस्सा लियाl

गांधी जी का जीवन परिचय गांधी जी का जीवन परिचय

दुनियां की बड़ी-बड़ी हस्तियाँ गाँधी जी से प्रभावित

1. 2009 में अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा वर्जीनिया प्रांत के एक हाईस्कूल में गएl तभी एक छात्र ने सवाल किया कि आप जीवित या गुजर चुकी किस हस्ती के साथ डिनर करना चाहेंगेl ओबामा ने जवाब दिया, “महात्मा गांधी.” अमेरिकी संसद में ओबामा के दफ्तर में महात्मा गांधी की तस्वीर भी लगी हैl

2. अमेरिका के मशहूर क्रांतिकारी मार्टिन लूथर किंग ने नागरिक अधिकारों के लिए अहिंसक तरीके से लड़ाई लड़ी और कामयाबी पाईl मार्टिन लूथर किंग गांधी की सोच और उनके विचारों से बहुत ही ज्यादा प्रभावित थेl किंग ने कहा, “ईसा मसीह ने हमें लक्ष्य दिये हैं और महात्मा गांधी ने उन लक्ष्यों तक पहुंचने की रणनीतिl”

3. जवानी में भारत भ्रमण पर आए स्टीव जॉब्स गांधी की जिंदगी और आध्यात्म से प्रभावित थेl स्टीव जॉब्स ने 1980 के दशक में जब अपनी कंपनी बनाई और एप्पल कंप्यूटर बेचना शुरू किया तो उन्होंने विज्ञापनों में चरखे के साथ बापू की तस्वीर लगाईl विज्ञापन का नारा था, “अलग सोचोl

4. 20वीं सदी के महान वैज्ञानिक अल्बर्ट आइनस्टाइन भी महात्मा गांधी के कायल थेl दोनों एक दूसरे को खत भी लिखा करते थेl गांधी जी के हत्या की खबर पाते ही आइनस्टाइन की आंखें भर आईंl उन्होंने कहा, “एक दिन ऐसा भी हो सकता है कि आने वाली पीढ़ी को यकीन ही नहीं होगा कि मांस और खून का बना ऐसा आदमी कभी पृथ्वी पर चला होगा”l

5. दक्षिण अफ्रीका का आधुनिक इतिहास नेल्सन मंडेला से जुड़ा है और नेल्सन मंडेला गांधी से जुड़े हैंl नेल्सन मंडेला ने गांधी के पदचिह्नों पर चलते हुए दक्षिण अफ्रीका को रंग भेद और नस्लवाद से आजादी दिलाईl भारत में तैनात दक्षिण अफ्रीका के राजदूत हैरिस माजेके ने कहा, “नेल्सन मंडेला दक्षिण अफ्रीका के पिता हैं और महात्मा गांधी हमारे दादा”l

6. संगीत की दुनिया के सबसे बड़े नामों में शुमार बीटल्स बैंड के ब्रिटिश संगीतकार जॉन लेनन भी गांधी से प्रभावित थेl बापू के जैसा गोल चश्मा लेनन भी पहना करते थेl लेनन कहते थे कि गांधी ने कहा है “वो बदलाव खुद बनो, जो तुम दुनिया में देखना चाहते होl

7. तिब्बत में चीन के दमन के बाद दलाई लामा भागकर भारत आएl 1956 में 20 साल की उम्र में दलाई लामा राजघाट में बापू की समाधि पर गएl दलाई लामा ने समाधि को छुआ और जीवन में कभी हिंसा का रास्ता न अपनाने का प्रण कियाl 1989 में दलाई लामा ने अपना शांति पुरस्कार महात्मा गांधी को समर्पित कियाl

8. नोबेल शांति पुरस्कार विजेता और म्यांमार की नेता आंग सांग सू ची अपने जीवन को महात्मा गांधी से प्रभावित बताती हैl सू ची दुनिया भर में जगह जगह बच्चों को गांधी के बारे में पढ़ने को कहती हैंl म्यांमार में सेना के सत्ता हथियाने के लिए खिलाफ सू ची ने लंबा अहिंसक विरोध कियाl वह 15 साल नजरबंद रहींl

गांधी जी का जीवन परिचय, आप लोगो को अच्छा लगा तो इसे शेयर करेंl अपने दोस्तों के साथ फेसबुक और व्हाट्सउप मेंl

इसे भी देखें:- इंसान की शारीर से जुरी महत्पूर्ण बातें

इसे शेयर जरूर करें