जम्मू और कश्मीर सामान्य ज्ञान Jammu Kashmir Samanya Gyan

जम्मू और कश्मीर सामान्य ज्ञान Jammu Kashmir Samanya Gyan

नमस्कार दोस्तों, Shital RCS GYAN के इस ब्लॉग में आपका स्वागत है। आज के इस आर्टिकल में जम्मू और कश्मीर सामान्य ज्ञान के बारे में महत्वपूर्ण तथ्य बताने जा रहा हूँ l यह जम्मू और कश्मीर के सभी कम्पटीशन एग्जाम के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण है। UPSC, PCS, SSC, RAILWAY और सभी अन्य कम्पटीशन एग्जाम के लिए इम्पोर्टेन्ट माईने रखता है। दोस्तों आप हमारे वेबसाइट से जुड़े रहें ताकि मैं आप के लिए और भी स्टडी मटेरियल, सामान्य ज्ञान, प्रीपरेशन टिप्स का जानकारी लाता रहूं।

इसका पीडीऍफ़ फाइल डाउनलोड करने के लिए नीचे जाएँ…



जम्मू और कश्मीर सामान्य ज्ञान

राजधानी – जम्मू और श्रीनगर
स्थापना दिवस – 26 अक्टूबर 1947
सबसे बड़ा शहर – श्रीनगर
जनसंख्या – 1,25,41,302
जनसंख्या घनत्व – 56 /किमी
जिलों की संख्या – 22
राजभाषा – उर्दू
प्रमुख भाषाएँ – उर्दू, कश्मीरी, पहाड़ी, लद्दाखी और डोगरी
राजकीय पशु – हंगुल
राजकीय फूल – कमल
राजकीय वृक्ष – चिनार
राजकीय पक्षी – काले गर्दन वाला सारस
विधान सभा में सीटों की संख्या – 89
विधान परिषद में सीटों की संख्या – 36
लोक सभा सीटों की संख्या – 6
राज्य सभा सीटों की संख्या – 4
उच्च न्यायालय – जम्मू और कश्मीर उच्च न्यायालय
साक्षरता दर – 67.2%
लिंगानुपात – 1000/889
डाक सूचक संख्या – 18 और 19

भारत की स्वतन्त्रता के समय महाराज हरि सिंह यहाँ के शासक थे, जो अपनी रियासत को स्वतन्त्र राज्य रखना चाहते थे। शेख़ अब्दुल्ला के नेतृत्व में मुस्लिम कॉन्फ़्रेंस कश्मीर की मुख्य राजनैतिक पार्टी थी। कश्मीरी पंडित, शेख़ अब्दुल्ला और राज्य के ज़्यादातर मुसल्मान कश्मीर का भारत में ही विलय चाहते थे क्योंकि भारत धर्मनिर्पेक्ष है। पर पाकिस्तान को ये बर्दाश्त ही नहीं था कि कोई मुस्लिम-बहुमत प्रान्त भारत में रहे (इससे उसके दो-राष्ट्र सिद्धान्त को ठेस लगती थी)। इस लिये 1947-48 में पाकिस्तान ने कबाइली और अपनी कुछ ही सेना के बदौलत से कश्मीर में आक्रमण किया और क़ाफ़ी हिस्सा हथिया लिया। उस समय प्रधानमन्त्री जवाहरलाल नेहरू ने मोहम्मद अली जिन्नाह से विवाद जनमत-संग्रह से सुलझाने की पेशक़श की, जिसे जिन्ना ने उस समय ठुकरा दिया क्योंकि उनको अपनी सैनिक कार्रवाई पर पूरा भरोसा था। महाराजा हरि सिंह ने शेख़ अब्दुल्ला की सहमति से भारत में कुछ शर्तों के तहत विलय कर दिया। भारतीय सेना ने जब राज्य का काफ़ी हिस्सा बचा लिया था, तब इस विवाद को संयुक्त राष्ट्र में ले जाया गया। संयुक्तराष्ट्र महासभा ने उभय पक्ष के लिए दो करार (संकल्प) पारित किये :-
* पाकिस्तान तुरन्त अपनी सेना क़ाबिज़ हिस्से से खाली करे।
* शान्ति होने के बाद दोनों देश कश्मीर के भविष्य का निर्धारण वहाँ की जनता की चाहत के हिसाब से करें।




जम्मू और कश्मीर सामान्य ज्ञान Jammu Kashmir Samanya Gyan

1. जम्मू और कश्मीर की सीमाएं इस प्रकार है, उत्तर में चीन, दक्षिण में हिमाचल प्रदेश और पंजाब, पूर्व में तिब्बत तथा पश्चिम में पाकिस्तान स्थित है।
2. यहाँ की प्रमुख नदियों में झेलम, रवि, चिनाब, श्योक, गिलगित, किशनगंगा है।
3. धान गेहूं, मक्का और फलों में सेब, चेरी, आड़ू, बादाम बागबानी प्रमुख फसले हैं। केसर विदेशी मुद्रा प्राप्त करने की प्रमुख फसल है।
4. यहाँ की प्रमुख जनजातियाँ में बाल्टी, बेडा, बोटो, ड्रोकपा, चांगपा, गर्रा, मोन, परिग्पा, गुज्जर, गद्दी, सिप्पी, अदि जम्मू कश्मीर में पाई जाती है।
5. प्रदेश की ग्रीष्मकालीन राजधानी श्रीनगर है और शीतकालीन राजधानी जम्मू-तवी। भारतीय जम्मू और कश्मीर राज्य के तीन मुख्य अंचल हैं : जम्मू (हिन्दू बहुल), कश्मीर (मुस्लिम बहुल) और लद्दाख़ (बौद्ध बहुल)। कश्मीर को ‘दुनिया का स्वर्ग’ माना गया है।
6. जम्मू और कश्मीर की कुल जनसंख्या में से, 27.38% लोग शहरी क्षेत्रों में रहते हैं। लगभग 72.62% ग्रामीण क्षेत्रों के गांवों में रहते हैं। शहरी क्षेत्रों में आबादी का कुल आंकड़ा 3,433,242 है, जिसमें से 1,866,185 पुरुष हैं जबकि शेष 1,567,057 महिलाएं हैं।
7. जम्मू और कश्मीर के शहरी क्षेत्रों में लिंग अनुपात 840 महिलाओं की प्रति 1000 पुरुषों की थी। बच्चे के लिए (0-6) लिंग अनुपात शहरी क्षेत्र के लिए आंकड़ा प्रति 1000 लड़कों में 850 लड़कियां थीं।
8. जम्मू और कश्मीर में औसत साक्षरता दर 77.12 प्रतिशत थी, जिसमें पुरुष 83.9 2% साक्षर थे जबकि महिला साक्षरता 56.65% थी। जम्मू और कश्मीर के शहरी क्षेत्र में कुल साक्षर 2,31 9, 283 थे।
9. राज्य तीन संभागो में बटा हुआ है। पहला “जम्मू संभाग”, दूसरा “कश्मीर घाटी संभाग”, तीसरा “लद्दाख संभाग” इस तीनों में जिलों की संख्या 22 है। पहला जम्मू संभाग में डोडा जिला, जम्मू जिला, कठुआ जिला, किश्तवाड़ जिला, पुंछ जिला, राजौरी जिला, रामबन जिला, रियासी जिला, सांबा जिला और उधमपुर जिला है। दूसरा कश्मीर घाटी संभाग अनन्तनाग जिला, बांदीपोरा जिला, बारामूला जिला, बड़गांव जिला, गान्दरबल ज़िला, कुलगाम जिला, कुपवाड़ा जिला, पुलवामा जिला, शोपियां जिला और श्रीनगर जिला है। तीसरा लद्दाख संभाग कारगिल जिला और लेह जिला स्थित है।
10. पाकिस्तान इसके उत्तरी इलाके (“पाक अधिकृत कश्मीर”) या तथाकथित “आज़ाद कश्मीर” के हिस्सों पर क़ाबिज़ है, जबकि चीन ने अक्साई चिन पर कब्ज़ा किया हुआ है। भारत इन कब्ज़ों को अवैध मानता है जबकि पाकिस्तान भारतीय जम्मू और कश्मीर को एक विवादित क्षेत्र मानता है।
11. श्रीनगर का प्रमुख उद्योग कश्मीरी शाल की बुनाई है जो बाबर के समय से ही चली आ रही है। कश्मीरी कालीन भी प्रसिद्ध औद्योगिक उत्पादन है।
भारतीय संविधान में जम्मू और कश्मीर की विशेष स्थिति
भारत के संवैधानिक प्रावधान स्वतः जम्मू तथा कश्मीर पर लागू नहीं होते। केवल वही प्रावधान जिनमें स्पष्ट रूप से कहा जाए कि वे जम्मू कश्मीर पर लागू होंगे, उस पर लागू होते हैं। जम्मू कश्मीर की विशेष स्थिति का ज्ञान इन तथ्यों से होता है-
1. जम्मू कश्मीर संविधान सभा द्वारा निर्मित राज्य संविधान से वहाँ का कार्य चलता है। यह संविधान जम्मू कश्मीर के लोगों को राज्य की नागरिकता भी देता है। केवल इस राज्य के नागरिक ही संपत्ति खरीद सकते हैं या चुनाव लड़ सकते हैं या सरकारी सेवा ले सकते हैं।
2. भारतीय संसद जम्मू कश्मीर से संबंध रखने वाला ऐसा कोई कानून नहीं बना सकती है जो इसकी राज्य सूची का विषय हो।
3. अवशेष शक्ति जम्मू कश्मीर विधान सभा के पास होती है।
4. इस राज्य पर सशस्त्र विद्रोह की दशा में या वित्तीय संकट की दशा में आपात काल लागू नहीं होता है।
5. भारतीय संसद राज्य का नाम क्षेत्र सीमा बिना राज्य विधायिका की स्वीकृति के नहीं बदलेगी।
6. राज्यपाल की नियुक्ति राष्ट्रपति राज्य मुख्यमंत्री की सलाह के बाद करेंगे।
7. संसद द्वारा पारित निवारक निरोध नियम राज्य पर अपने आप लागू नहीं होगा।
8. राज्य की पृथक दंड संहिता तथा दंड प्रक्रिया संहिता है।




जम्मू और कश्मीर सामान्य ज्ञान Jammu Kashmir Samanya Gyan:- DOWNLOAD PDF FILE

इसे अपने दोस्तों के साथ फेसबुक और व्हाट्सएप में शेयर करें। क्या पता आपके एक शेयर से किसी स्टूडेंट्स का हेल्प हो जाए।

आप इस राज्य से जुड़ी और भी GK जानते तो कमेंट में जरूर बताएं। आपके कमेंट से स्टूडेंट्स को सिखाने और मुझे मोटिवेशन मिलता है।

1. सिक्किम सामान्य ज्ञान साथ में पीडीऍफ़
2. राजस्थान सामान्य ज्ञान साथ में पीडीऍफ़
3. ओडिशा सामान्य ज्ञान साथ में पीडीऍफ़
4. तमिलनाडु सामान्य ज्ञान साथ में पीडीऍफ़
5. असम सामान्य ज्ञान साथ में पीडीऍफ़
6. नागालैंड सामान्य ज्ञान साथ में पीडीऍफ़
7. मिजोरम सामान्य ज्ञान साथ में पीडीऍफ़
8. मेघालय सामान्य ज्ञान साथ में पीडीऍफ़
9. पश्चिम बंगाल सामान्य ज्ञान साथ में पीडीऍफ़
10. मणिपुर सामान्य ज्ञान साथ में पीडीऍफ़
11. पंजाब सामान्य ज्ञान साथ में पीडीऍफ़
12. महाराष्ट्र सामान्य ज्ञान साथ में पीडीऍफ़
13. मध्यप्रदेश सामान्य ज्ञान साथ में पीडीऍफ़
14. केरल सामान्य ज्ञान साथ में पीडीऍफ़
15. कर्नाटक सामान्य ज्ञान साथ में पीडीऍफ़
16. जम्मू और कश्मीर सामान्य ज्ञान साथ में पीडीऍफ़
17. झारखण्ड सामान्य ज्ञान साथ में पीडीऍफ़
18. हिमाचल प्रदेश सामान्य ज्ञान साथ में पीडीऍफ़
19. हरियाणा सामान्य ज्ञान साथ में पीडीऍफ़
20. गुजरात सामान्य ज्ञान साथ में पीडीऍफ़
21. त्रिपुरा सामान्य ज्ञान साथ में पीडीऍफ़
22. उत्तराखण्ड सामान्य ज्ञान साथ में पीडीऍफ़
23. तेलंगाना सामान्य ज्ञान साथ में पीडीऍफ़
24. गोवा सामान्य ज्ञान साथ में पीडीऍफ़
25. छत्तीसगढ़ सामान्य ज्ञान साथ में पीडीऍफ़
26. बिहार सामान्य ज्ञान साथ में पीडीऍफ़
27. उत्तरप्रदेश सामान्य ज्ञान साथ में पीडीऍफ़
28. आंध्रप्रदेश सामान्य ज्ञान साथ में पीडीऍफ़
29. अरुणाचल प्रदेश सामान्य ज्ञान साथ में पीडीऍफ़

इसे शेयर जरूर करें

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *