ताजमहल का इतिहास जानिए खास बातें आगरा का ताजमहल

आगरा के ताजमहल का इतिहास जानिए

आगरा का ताजमहल का इतिहास जानिए खास बातें आगरे का ताजमहल

भारत के राजा शाहजहां अपनी पत्नी मुमताज महल से बेपनाह मुहब्बत करते थेl किशोरावस्था में मसालों के बाजार में शाहजहां की मुलाकात मुमताज से हुई और बाद में निकाहl मुमताज ने शाहजहां से कहा कि वो दुनिया की सबसे खूबसूरत इमारत देखना चाहती हैl शाहजहां ने ये इच्छा पूरी तो की लेकिन तब तक मुमताज का निधन हो चुका थाl मुमताज महल की कब्र ताजमहल के बीचों बीच हैl ताजमहल का निर्माण 1632 में शुरू हुआl हाथियों की सेना के जरिए मुगल साम्राज्य की राजधानी आगरा तक भारी भरकम संगमरमर की शिलाएं पहुंचाई गईंl 21 साल तक हजारों कारीगरों ने इसे तराशाl 1653 के करीब सफेद संगमरमर की ये इमारत तैयार हुईl

यमुना नदी के तट पर गीली जमीन पर इतनी विशाल और भारी भरकम इमारत खड़ा करना आसान नहीं थाl उस समय के इंजीनियरों ने जमीन में बहुत गहराई पर कुएं खोदे, उन्हें चूने और पत्थरों से भराl इन कुओं को ढंककर उन्होंने ऊपर पत्थरों की बीमें बनाई और उस पर नींव डालीl यही तकनीक आज भी इस्तेमाल की जाती हैl ताजमहल की चारों मीनारें एकदम सीधी नहीं हैंl सभी को हल्का सा बाहर की तरफ झुकाया गया हैl ऐसा करने से दूर से सारी मीनारें सीधी दिखाई पड़ती हैंl इसका एक फायदा यह भी है कि बहुत तेज भूकंप आने पर मीनारें बाहर की ओर गिरेंगी और मुख्य इमारत और उसमें चिरनिद्रा में सोयी मुमताज को कोई नुकसान नहीं पहुंचाएंगीl

शाहजहां ने परदेस से आए मेहमानों के लिए दरवाजे खोल दिएl इतिहासकारों के मुताबिक उस वक्त मित्रता और सहिष्णुता चरम पर थीl ताजमहल के भीतर जड़े कई रंगीन पत्थर यूरोप से आएl कुछ इतिहासकारों का मानना है कि ताजमहल के जरिए शाहजहां ने इंसान की जिंदगी के आखिरी दिन को दर्शाने की कोशिश की हैl कुरान शरीफ में जन्नत का जैसा जिक्र है, शाहजहां ने धरती पर उसी को जिंदा करने की कोशिश कीl ताजमहल के सामने के तालाब जन्नत में बहने वाली नदियों को दर्शाते हैंl

शाहजहां की ताकत को चुनौती देना वाला कोई नहीं थाl लेकिन मुगल साम्राज्य में राजा बनने के चक्कर में परिवार में खूनखराबा होना नई बात नहीं थीl यही शाहजहां के साथ भी हुआl अपने भाई दारा शिकोह को मरवा कर और पिता शाहजहां को कैद कर औरंगजेब ने सत्ता हथिया लीl कैदखाने से शाहजहां को ताजमहल दिखता था, जिसे देखते देखते महान सम्राट ने दम तोड़ाl ताजमहल अब भारत की सबसे मशहूर पहचान हैl भारत आने वाले विदेशी नेता भी वास्तुकला के इस नायाब नमूने के दीदार करने पहुंचते हैंl रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन हो या अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा, हर कोई अपनी पत्नी के साथ ताज को देखने की मुराद पूरी करता हैl

फ्रांस के राष्ट्रपति निकोला सारकोजी को अपनी पत्नी कार्ला ब्रूनी के साथ ताजमहल जाने के लिए कुछ सालों का इंतजार करना पड़ाl पहली बार जब वे 2008 में भारत गए थे तो कार्ला ब्रूनी के साथ उनकी शादी नहीं हुई थी और प्रोटोकॉल की बाधाओं के कारण वे अपनी जीवनसंगिनी को साथ नहीं ले जा पाए थेl बॉलीवुड ताजमहल के इर्द गिर्द कई फिल्में और कहानियां गढ़ चुका हैl इसकी दीवनगी से हॉलीवुड भी अछूता नहींl शूटिंग के लिए भारत आने वाले हॉलीवुड कलाकार भी आगरा आकर ताज का दीदार जरूर करते हैंl 2011 में वाह ताज कहते टॉम क्रूजl जनवरी 2015 में ताजमहल अमेरिकी राष्ट्रपति ओबामा के स्वागत की तैयारी कर रहा थाl दूसरी बार भारत दौरे पर आने वाले ओबामा इस बार समय निकालकर दुनिया के इस अजूबे को देखना चाहते थेl लेकिन सऊदी अरब के शाह के निधन के चलते ओबामा को आगरा जाने का मौका न मिलाl

टिकट बिक्री से कमाई

* आज ताज महल, उत्तरप्रदेश कमाई के मामले में सब से आगे है:- 17 करो़ड़ 87 लाख रुपये

* कुतुब मीनार, दिल्ली में स्थित है कमाई:- 10 करो़ड़ 85 लाख रुपये

* लाल किला, दिल्ली में स्थित है कमाई:- 6 करोड़ 16 लाख रुपये

* हुमायूं का मकबरा, दिल्ली में स्थित है कमाई:- 6 करोड़ 7 लाख रुपये

* नालंदा, बिहार में स्थित है कमाई:- 54 लाख रुपये

* सूरजकुंड, फरीदाबाद में स्थित है कमाई:- 35 लाख रुपये

* हम्पी, कर्नाटक में स्थित है कमाई:- 1 करो़ड़ 55 लाख रुपये

* खजुराहो, मध्यप्रदेश में स्थित है कमाई:- 1 करोड़ 93 लाख रुपये

* कोणार्क का मंदिर, ओडीसा में स्थित है कमाई:- लगभग 3 करोड़ रुपये

* चारमीनार, हैदराबाद स्थित है कमाई:- लगभग एक करोड़ रुपये

मैं उम्मीद करता हूँ ताजमहल का इतिहास पसंद आया होगाl इसे अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करेंl

 

इसे भी देखें:- बिहार की जनसंख्या वृद्धि दर, जन्म और मृत्यु दर
इसे भी देखें:- Railway Group D Syllabus In Hindi रेलवे ग्रुप डी सिलेबस
इसे भी देखें:- बिहार का जनसंख्या घनत्व और लिंगानुपात के बारे में

इसे शेयर जरूर करें