Oops! It appears that you have disabled your Javascript. In order for you to see this page as it is meant to appear, we ask that you please re-enable your Javascript!

तीर्थ यात्रा करने के लिए फ्री में पैसा सरकार देति हैl

तीर्थ यात्रा करने के लिए फ्री में पैसा सरकार देति हैl
सरकार के तरफ से फ्री में तीर्थ यात्रा का मोक़ा मिलता है हिन्दुओं को

असम, वरिष्ठ नागरिकों के लिए कांग्रेस पार्टी ने 2004-05 में धर्मज्योति योजना शुरू की थीl इसमें 20 के समूह में जाने वाले यात्रियों को बस यात्रा का आधा खर्च दिया जाता हैl इसके अलावा मौजूदा बीजेपी सरकार ने पुण्यधाम यात्रा 2017 में शुरू की जिसके तहत सरकार जगन्नाथ मंदिर, मथुरा, वृंदावन, अजमेर शरीफ और वैष्णो देवी की यात्रा का खर्च उठाती हैl



दिल्ली, दिल्ली की कैबिनेट ने इसी हफ्ते मुख्यंत्री तीर्थ यात्रा योजना शुरू की हैl इसके तहत हर विधानसभा सीट से 1100 वरिष्ठ नागरिकों को तीर्थयात्रा कराई जाएगी जिसका पूरा खर्च सरकार देगीl यात्रा का लाभ सिर्फ उनको मिलेगा जिनकी वार्षिक कमाई 3 लाख रुपये से कम हैl यात्रियों को 2 लाख के इंश्योरेंस के अलावा आने जाने, ठहरने और भोजन का खर्च मिलेगाl

गुजरात, राज्य में 2001 से ही कैलाश मानसरोवर यात्रा के लिए सब्सिडी योजना चल रही हैl सिंधु दर्शन और श्रावण तीर्थदर्शन योजना इस साल से शुरू की गयी हैl मानसरोवर के लिए 23 हजार रुपये की सब्सिडी मिलती हैl सिंधु दर्शन के लिए 15,000 और श्रावण तीर्थ दर्शन के लिए 50 लोगों के समूह में जाने वाले यात्रियों को बस यात्रा का आधा खर्च मिलता हैl

हरियाणा, मौजूदा सरकार 50 बुजुर्ग यात्रियों को सिंधु दर्शन यात्रा के लिए 10 हजार रुपये देती हैl 50 दूसरे यात्रियों को मानसरोवर की यात्रा के लिए 50 हजार रुपये मिलते हैंl

मध्यप्रदेश, मुख्यमंत्री तीर्थ दर्शन योजना के तहत हर साल मध्य प्रदेश के वरिष्ठ नागरिकों को इसका लाभ मिलता हैl उन्हें बद्रीनाथ, केदारनाथ, जगन्नाथपुरी, द्वारका, वैष्णोदेवी, गया, हरिद्वार, शिर्डी, तिरुपति, अजमेर शरीफ, काशी, श्रावण बेलागोला और वेलांकन्नी चर्च की यात्रा के लिए सरकार मदद देती हैl इसके अलावा तीर्थ के लिए विदेश जाने वालों को भी 30 हजार रुपये या फिर यात्रा का आधा खर्च सब्सिडी के रूप में दिया जाता हैl

कर्नाटक, कर्नाटक के निवासियों को सरकार की तरफ से चार धाम यात्रा के लिए 20 हजार रुपये प्रति यात्री दिए जाते हैंl कांग्रेस पार्टी की सरकार ने यह योजना 2014 में शुरू की थीl इससे पहले बीजेपी सरकार ने मानरोवर यात्रा के लिए 30 हजार रुपये प्रति यात्री सब्सिडी शुरू की थीl 2017 में एक और सब्सिडी शुरू की गई जिसके तहत राज्य में तीर्थ पर जाने वाले सभी धर्मों के लोगों को खर्च का 25 फीसदी हिस्सा मिलता हैl



राजस्थान, 2013 में कांग्रेस पार्टी की सरकार ने वरिष्ठ नागरिकों के लिए रेल से मुफ्त तीर्थयात्रा योजना शुरू कीl पिछले साल बीजेपी सरकार ने इसका नाम बदल, इसमें विमान यात्रा को भी शामिल करा दिया. वर्तमान में 13 तीर्थस्थलों के लिए यह सुविधा दी जाती हैl 2013 से लेकर अब तक 80 हजार से ज्यादा लोगों ने इस योजना का लाभ लिया हैl

तमिलनाडु, तमिलनाडु में हिंदुओं को मानसरोवर और मुक्तिनाथ की यात्रा के लिए सब्सिडी दी जाती हैl यहां येरुशलम की यात्रा पर जाने वाले ईसाई भी सब्सिडी पा सकते हैंl मानसरोवर और मुक्तिनाथ की सब्सिडी 2012 में शुरू की गईl इसके तहत मानसरोवर जाने वाले यात्रियों को 40 हजार और मुक्तिनाथ की यात्रा के लिए 10 हजार रुपये की सब्सिडी दी जाती हैl येरुशलम जाने वालों को 20000 रुपये मिलते हैंl

उड़ीसा, 2016 में सरकार ने वरिष्ठ नागरिक तीर्थ यात्रा योजना शुरू की जिसमें वरिष्ठ नागरिकों को तीर्थ यात्रा का पूरा खर्च दिया जाता हैl सरकार ने इसके लिए पहले वर्ष में 5 करोड़ रुपये की रकम निर्धारित की थीl

उत्तर प्रदेश, भारत के सबसे बड़े राज्य उत्तर प्रदेश में बीजेपी की सरकार आने का बाद सब्सिडी दोगुनी कर दी गईl यहां कैलाश मानसरोवर की यात्रा करने वालों को अब एक लाख रुपये प्रति यात्री सरकार की तरफ से दिया जाएगाl इसके अलावा समाजवादी पार्टी की सरकार ने श्रावण यात्रा के लिए विशेष रेलगाड़ी की व्यवस्था की थी, जिसमें वरिष्ट नागरिक ही सफर कर सकते हैंl

उत्तराखंड, 2014 में कांग्रेस पार्टी की सरकार ने मेरे बुजुर्ग, मेरे तीर्थ नाम से योजना शुरू की जिसमें वरिष्ठ नागरिकों को राज्य के तीर्थस्थलों की यात्रा कराई जाती हैl बीजेपी की सरकार आने के बाद इसका नाम बदल दिया गयाl साथ ही पीरन कलियार दरगाह समेत कई और तीर्थ स्थानों को भी इसमें शामिल किया गयाl राज्य का संस्कृति मंत्रालय कैलाश मानसरोवर की यात्रा करने वालों को इस साल से 30 हजार रूपये की सब्सिडी देगाl

इसे भी देखें:- भारत के प्रसिद्ध नेता जेल के खीचरी खाने वाले ये सभी हैं
इसे भी देखें:- भारत में हुआ अब तक का महाघोटाला सूची बिस्तार से
इसे भी देखें:- बाल अधिकारों में इन देशों का हालात ख़राब रिपोर्ट

इसे भी देखें:- SSC CHSL Tier 1 दोपहर की पाली 17 January 2017 General Awareness Solved Paper
इसे भी देखें:- SSC CHSL Tier 1 सुबह की पाली 16 January 2017 General Awareness Solved Paper
इसे भी देखें:- भारतीय राजव्यवस्था CH-4 संविधान की विशेषताएँ से पुछे जाने वाले महत्वपूर्ण सवाल P-1

इसे शेयर जरूर करें

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *