Oops! It appears that you have disabled your Javascript. In order for you to see this page as it is meant to appear, we ask that you please re-enable your Javascript!

मेघालय सामान्य ज्ञान Meghalaya Samanya Gyan

मेघालय सामान्य ज्ञान Meghalaya Samanya Gyan

नमस्कार दोस्तों, Shital RCS GYAN के इस ब्लॉग में आपका स्वागत है। आज के इस आर्टिकल में मेघालय सामान्य ज्ञान के बारे में महत्वपूर्ण तथ्य बताने जा रहा हूँ l यह मेघालय के सभी कम्पटीशन एग्जाम के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण है। UPSC, PCS, SSC, RAILWAY और सभी अन्य कम्पटीशन एग्जाम के लिए इम्पोर्टेन्ट माईने रखता है। दोस्तों आप हमारे वेबसाइट से जुड़े रहें ताकि मैं आप के लिए और भी स्टडी मटेरियल, सामान्य ज्ञान, प्रीपरेशन टिप्स का जानकारी लाता रहूं।

इसका पीडीऍफ़ फाइल डाउनलोड करने के लिए नीचे जाएँ…



मेघालय सामान्य ज्ञान Meghalaya Samanya Gyan

मेघालय सामान्य ज्ञान

स्थापना दिवस – 21 जनवरी 1972
राजधानी – शिलांग
सबसे बडा शहर – शिलांग
उच्च न्यायालय – मेघालय
राजयभषा – अंग्रेजी
क्षेत्रफल – 22429 किमी
जिलों की संख्या – 11
जनसंख्या – 2,966,889
जनसंख्या घनत्व – 132 प्रति वर्ग किमी
साक्षरता – 75.43%
लिंगानुपात – 1000/989
राजकीय पशु – धूमिल तेंदुए
राजकीय पक्षी – पहाड़ी मैना
राजकीय वृक्ष – गमारी
राजकीय फूल – स्लीपर आर्किड
विधान सभा में सीटों की संख्या – 60
राज्य सभा में सीटों की संख्या – 1
लोक सभा में सीटों की संख्या – 2



मेघालय सामान्य ज्ञान Meghalaya Samanya Gyan

1. मेघालय भारत के उत्तर पूर्वी हिस्से में स्थित है। यह राज्य, उत्तर की ओर से असम और दक्षिण में बांग्लादेश से घिरा है।
2. मेघालय का गठन असम के अंतर्गत 2 अप्रैल, 1970 को एक स्वायत्तशासी राज्य के रूप में किया गया। एक पूर्ण राज्य के रूप में मेघालय 21 जनवरी, 1972 को अस्तित्व में आया।
3. “मेघालय” का शाब्दिक अर्थ है—मेघों का आलय यानी बादलों का घर, मूलतः एक पहाड़ी राज्य है। इस इलाके में विस्तृत मैदान, पहाड़ियां और नदी-घाटियां हैं। इस पठार के दक्षिणी इलाके में गहरे खड्ड तथा खड़ी ढलानें हैं और पहा़ड़ी की तलहटी पर समतल भूमि की संकरी पट्टी बंग्लादेश की अंतर्राष्ट्रीय सीमा के साथ लगी है।
4. भारत में ब्रिटिश राज के समय तत्कालीन ब्रिटिश शाही अधिकारियों द्वारा इसे “पूर्व का स्काटलैण्ड” भी कहा जाता था।
5. यहाँ की प्रमुख भाषाओं में खासी, गारो, प्नार, बियाट, हजोंग और बांग्ला अदि भाषाएं बोली जाती है, यहाँ कुछ कुछ हिंदी भी बोली जाती है जिसके बोलने वाले शिलांग में मिलते हैं।
6. यहाँ की सबसे खास बात भारत के अन्य राज्यों से अलग मातृवंशीय प्रणाली चलती है, जिसमें वंशावली मां (महिला) के नाम से चलती है और सबसे छोटी बेटी अपने माता पिता की देखभाल करती है तथा उसे ही उनकी सारी सम्पत्ति मिलती है।
7. यहां नवपाषाण शैली की झूम कृषि शैली अभी तक अभ्यास में है। यहां के हाईलैण्ड पठार खनिज सम्पन्न मृदा के साथ साथ प्रचुर वर्षा होने पर भी बाढ़ से रोकथाम करने में सहायक होते हैं।
8. मेघालय का महत्त्व धान की फ़सल के घरेलु व्यावसायीकरण से जुड़ा हुआ है। घरेलु चावल की सबसे बड़ी विविधता का केंद्र है और पूर्वोत्तर भारत घरेलु चावल की उत्पत्ति का इकलौता क्षेत्र है जो सबसे अनुकूल है।
9. यहाँ की प्रमुख फसल में चावल, केला, कटहल, मक्का, अनन्नास, नाशपाती और आड़ू अदि है।
10. भारत में सर्वाधिक वर्षा वाला छेत्र मासिनराम मेघालय में ही स्थित है। मेघालय की प्रमुख नदियों में रिग्गी, कालू, अजागर, सांदा, डीग्रू, उमखी अदि नदियां हैं।
11. मेघालय की जलवायु ना तो अधिक उष्ण या ना अधिक शीत है। यहाँ का जलवायु मध्यम और आर्द्र है। यहाँ वार्षिक वर्षा लगभग 1200 से.मी. तक होती है। यह राज्य को देश का सबसे ‘गीला’ राज्य कहा जाता है ।
12. शिलांग के दक्षिण में चेरापूंजी है, जहाँ एक कैलेंडर महीने में सर्वाधिक बरसात का विश्व कीर्तिमान स्थापित किया है । इसी नगर के समीप ‘मावसिनराम’ नामक गाँव के नाम सर्वाधिक सालाना बारिश का रिकॉर्ड है ।
13. क्षेत्रफल का लगभग एक तिहाई हिस्सा वनों से ढ़का हुआ है । शिलांग शिखर की ऊँचाई 1966 मीटर है, यह यहाँ का सबसे ऊँचा शिखर है ।
14. मेघालय की जनसंख्या का अधिकांश भाग जनजातीय लोग हैं। इनमें खासी सबसे बड़े समूह हैं, इसके बाद गारो और फ़िर जयन्तिया लोग आते हैं। इनके अलावा अन्य समूहों में बियाट, कोच, संबंधित राजबोंगशी, बोरो, हाजोंग, दीमासा, कुकी, लखार, तीवा (लालुंग), करबी, राभा और नेपाली शामिल हैं।
15. मेघालय औद्योगिक विकास निगम लिमिटेड राज्य की वित्तीय एवं औद्योगिक विकास संस्था है, जो स्थानीय उद्यमियों को वित्तीय सहयता प्रदान करती है। लोहे तथा इस्पात सामग्री, सीमेंट तथा अन्य उपभोक्ता वस्तुओं के उत्पादन के लिए अनेक उपक्रमों की स्थापना की गई है।
16. राज्य में प्राकृतिक संसाधनों का भंडार है और ढेरों खनिज जैसे सिलिमेनाइट, चूना, कोयला, ग्रेनाइट आदि भरपूर मात्रा में मौजूद हैं।
17. पांच दिन तक मनाया जाने वाला ‘का पांबलांग-नोंगक्रेम’ खासियों का एक प्रमुख धार्मिक त्यौहार है। यह नोंगक्रेम नृत्य के नाम से भी प्रसिद्ध है। यह खासियों का एक प्रमुख धार्मिक त्यौहार है।
18. हाल ही में संबंधित अधिकारियों द्वारा की गई जनगणना सेे पता चला कि लगभग 40,000-50,000 नेपाली भी मेघालय में रह रहे हैं। मेघालय भारत के उन तीन राज्यों में शामिल है जिसमें ईसाई समुदाय की आबादी लगभग 70.3 प्रतिशत है।
19. मेघालय से छह राष्ट्रीय राजमार्ग गुजरते हैं। राज्य में लोक निर्माण विभाग द्वारा तैयार की गई पक्की और कच्ची सड़कों की कुल लंबाई 7,977.98 किलोमीटर है।
20. मेघालय में जगह-जगह ऐसे खूबसूरत पर्यटन स्थल हैं, जहां प्रकृति अपने भव्य रूप में दिखाई देती है। शिलांग में कई रमणीक स्थान हैं। इनमें वार्ड लेक, लेडी हैदरी पार्क, पोलो ग्राउंड, मिनी चिड़ियाघर, एलीफेंट जलप्रपात, और शिलांग चोटी प्रमुख हैं। शिलांग चोटी से पूरे शहर का नजारा दिखाई देता है। यहां का गोल्फ कोर्स देश के बेहतरीन गोल्फ कोर्सों में से एक है।
मेघालय सामान्य ज्ञान Meghalaya Samanya Gyan

मेघालय का शिक्षा
* मेघालय भारत के सबसे कम विकसित राज्यों में से एक है।
* लगभग आधे से अधिक लोग (75.43 प्रतिशत) साक्षर हैं।
* राज्य में 5,517 शिक्षण संस्थाएं हैं।
* शिलांग स्थित नॉर्थ- इस्टर्न हिल युनिवर्सिटी राज्य का एकमात्र विश्वविद्यालय है।
* भारत के 1947 में हुए विभाजन ने यहाँ की आदिवासी आबादी को विस्थापित कर दिया।
* कुछ जनजातियों ने ख़ुद को जिस तरह नई अंतर्राष्ट्रीय सीमा द्वारा विभाजित पाया, उसके परिणामस्वरूप पूर्वी पाकिस्तान (वर्तमान बांग्लादेश) से वे भारत में अप्रवासित होती रहीं।




मेघालय सामान्य ज्ञान Meghalaya Samanya Gyan:- DOWNLOAD PDF FILE

इसे अपने दोस्तों के साथ फेसबुक और व्हाट्सएप में शेयर करें। क्या पता आपके एक शेयर से किसी स्टूडेंट्स का हेल्प हो जाए।

आप इस राज्य से जुड़ी और भी GK जानते तो कमेंट में जरूर बताएं। आपके कमेंट से स्टूडेंट्स को सिखाने और मुझे मोटिवेशन मिलता है।

1. सिक्किम सामान्य ज्ञान साथ में पीडीऍफ़
2. राजस्थान सामान्य ज्ञान साथ में पीडीऍफ़
3. ओडिशा सामान्य ज्ञान साथ में पीडीऍफ़
4. तमिलनाडु सामान्य ज्ञान साथ में पीडीऍफ़
5. असम सामान्य ज्ञान साथ में पीडीऍफ़
6. नागालैंड सामान्य ज्ञान साथ में पीडीऍफ़
7. मिजोरम सामान्य ज्ञान साथ में पीडीऍफ़
8. मेघालय सामान्य ज्ञान साथ में पीडीऍफ़
9. पश्चिम बंगाल सामान्य ज्ञान साथ में पीडीऍफ़
10. मणिपुर सामान्य ज्ञान साथ में पीडीऍफ़
11. पंजाब सामान्य ज्ञान साथ में पीडीऍफ़
12. महाराष्ट्र सामान्य ज्ञान साथ में पीडीऍफ़
13. मध्यप्रदेश सामान्य ज्ञान साथ में पीडीऍफ़
14. केरल सामान्य ज्ञान साथ में पीडीऍफ़
15. कर्नाटक सामान्य ज्ञान साथ में पीडीऍफ़
16. जम्मू और कश्मीर सामान्य ज्ञान साथ में पीडीऍफ़
17. झारखण्ड सामान्य ज्ञान साथ में पीडीऍफ़
18. हिमाचल प्रदेश सामान्य ज्ञान साथ में पीडीऍफ़
19. हरियाणा सामान्य ज्ञान साथ में पीडीऍफ़
20. गुजरात सामान्य ज्ञान साथ में पीडीऍफ़
21. त्रिपुरा सामान्य ज्ञान साथ में पीडीऍफ़
22. उत्तराखण्ड सामान्य ज्ञान साथ में पीडीऍफ़
23. तेलंगाना सामान्य ज्ञान साथ में पीडीऍफ़
24. गोवा सामान्य ज्ञान साथ में पीडीऍफ़
25. छत्तीसगढ़ सामान्य ज्ञान साथ में पीडीऍफ़
26. बिहार सामान्य ज्ञान साथ में पीडीऍफ़
27. उत्तरप्रदेश सामान्य ज्ञान साथ में पीडीऍफ़
28. आंध्रप्रदेश सामान्य ज्ञान साथ में पीडीऍफ़
29. अरुणाचल प्रदेश सामान्य ज्ञान साथ में पीडीऍफ़

इसे शेयर जरूर करें

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *